Beautiful Dialogues of Hindi Movie – Dongri Ka Raja

beautiful-dialogues-of-hindi-movie-dongri-ka-raja

डोंगरी! ये वो इलाका है जिसपे अंडरवर्ल्ड के कई बादशाहों ने हकूमत की है! हाजी मस्तान, करीमलाला, दाऊद इब्राहिम!

ऐसी ही हकूमत के बीच एक आवाज़ गूंजी जिसने डोंगरी के शोर को खामोश कर दिया! वो थी राजा की आवाज़!

जो हाँ बोले उसे छोड़ देता हूँ, जो ना बोले उसे तोड़ देता हूँ!

एक मुल्ज़िम पुलिस की वर्दी पहन के, इसकी नाम प्लेट लगा के एनकाउंटर के नाम पे सब का मर्डर कर रहा है, क्या उखाड़ लिया इसने!

चौबीस घंटे का टाइम दिया था इसको बाईस घंटे हो गए!

बाइस घंटे उसके थे अब अगले दो घंटे मेरे!

पुरे डोंगरी पर बस मेरा ही राज़ था पर मेरे दिल पर किसी और का राज़ था!

आँखें बंद करूँ तो उसी का चेहरा! आँखें खोलूँ तो उसी का ख्याल! रात रात भर करवटें बदल कर जागता रहा!

तभी तो बन गया तेरा ये हाल!

जब से तूने ये हाथ थामा है मैं संभल गया हूँ बस ये हाथ मत छोड़ना!

hshop
SHARE